राजस्थान का बजट 2020-21

राजस्थान के विकास के लिए 7 संकल्प:

  1. निरोगी राजस्थान
  2. संपन्न  किसान
  3. महिलाओं, बाल-वृद्ध कल्याण
  4. सक्षम मज़दूर छात्र, युवा 
  5. शिक्षा का परिधान 
  6. पानी, बिजली और बेहतर सड़कों का मान
  7. कौशल और तकनीक प्रधान 

शिक्षा क्षेत्र के लिए:

  1. 41,000 नई नौकरियों की घोषणा 
  2. शनिवार सरकारी स्कूलों के छात्रों के लिए NO-BAG दिन होगा। इस दिन कोई शिक्षण कार्य नहीं होगा।
  3. माध्यमिक और उच्च  माध्यमिक विद्यालयों के लिए कंप्यूटर शिक्षकों के लिए नया कैडर।
  4. अगले 3 वर्षों में 66 नए कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय खोले जाएंगे।

पर्यटन क्षेत्र:

  1. राजस्थान में आसानी से यात्रा करने की नीति विकसित की जाएगी।
  2. 100 करोड़ रुपये के लिए पर्यटन विकास कोष।
  3. RTDC की 4 हेरिटेज प्रॉपर्टी 4 करोड़ रुपये से बहाल की जाएंगी।
  4. 1000 राज्य स्तर और 5,000 स्थानीय स्तर के टूर गाइड को प्रशिक्षित किया जाएगा।

सीएम की अध्यक्षता में  निवेश प्रस्तावों की त्वरित मंजूरी के लिए बोर्ड ऑफ़ इन्वेस्टमेंट | 

चिकित्सा क्षेत्र:

  1. निकटवर्ती निजी अस्पतालों को घायलों  का इलाज करना अनिवार्य होगा।
  2. 100 करोड़ रुपए का निरोगी राजस्थान प्रबंधन कोष।
  3. जिला स्तर पर प्रारंभिक हस्तक्षेप केंद्र।
  4. अगले 4 वर्षों में 15 नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे।
  5. सड़क दुर्घटना मृत्यु दर को कम करने वाले 3 जिलों को सीएम सड़क सुरक्षा पुरस्कार दिए  जाएंगे ।
  6. 40 नए सीएचसी में प्राथमिक ट्रामा सेंटर बनाया जाएगा।
  7. उदयपुर, कोटा, अजमेर बीकानेर के मेडिकल कॉलेजों में अंग प्रत्यारोपण की सुविधा होगी।

लकड़ी, बांस, छोटे वन उत्पादों के निर्माण के प्रचार के लिए राजस्थान राज्य वन विकास निगम।

ऊर्जा क्षेत्र :

  1. अल्ट्रा मेगा सोलर पावर प्लांट विकसित किए जाएंगे।
  2. राजस्थान विधुत उत्पातन निगम 800 मेगावॉट सौर ऊर्जा परियोजनाओं की स्थापना करेगा। (मेगा वाट (MW) के बारे में जानने के लिए CLICK करे )
  3.  अगले 5 वर्षों में 300 मेगावाट की रूफटॉप सौर प्रणाली स्थापित की जाएगी।
  4. पायलट प्रोजेक्ट के रूप में 200 छोटी पेयजल परियोजनाएं सौर आधारित होंगी।
  5. जिला मुख्यालय और चिन्हित स्थानों को ग्रीन एनर्जी सिटी के रूप में विकसित किया जाएगा।

कृषि

  1. भूजल विकास के लिए 150 करोड़।
  2. ड्रिप स्प्रिंकलर सिस्टम के लिए 91 करोड़।
  3. किसानों की आय में मदद के लिए कृषि उपज संविदा  और सेवा कानून तैयार किया जाएगा।

स्थानीय निकाय:

नया नगर पालिका:

दौसा में मण्डवारी
जयपुर में बस्सी
अलवर में रामगढ़ और बंसूर
जोधपुर में भोपालगढ़
नागौर में जयल

स्टार्ट अप डेवलपमेंट के लिए 75 करोड़ रु।

वित्तीय विश्लेषण :

  1. अनुमानित राजस्व प्राप्ति `1 लाख 73 हजार 404 करोड़ 42 लाख
  2. अनुमानित राजस्व व्यय `1 लाख 85 हजार 750 करोड़ 3 लाख
  3. अनुमानित राजस्व घाटा `12 हजार 345 करोड़ 61 लाख
  4. अनुमानित राजकोषीय घाटा `33 हजार 922 करोड़ 77 लाख है जो GSDP का 2.99% है

बजट की महत्वपूर्ण जानकारी को pdf में डाउनलोड करने के लिए CLICK करे |

Visits: 178


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


security code *