रामस्वरूप किसान को राजस्थानी में लिखने के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार -2019 ।

  • कौन:  श्री रामस्वरूप किसान

  • किसके लिए: राजस्थानी में बारिक कथा एक कहानी पुस्तक

  • श्री किसान हनुमानगढ़ में नोहर तहसील के परलीका गांव से संबंध रखता है।

  • श्री किसान को स्मृति चिन्ह, नकद पुरस्कार और शाल भेट किये गेय।

  • श्री किसान की एक दर्जन से अधिक पुस्तकों अब तक प्रकाशित हो चुकी है।

  • कई सम्मान प्राप्त:

    साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार,

    राजस्थानी भाषा-साहित्य

    संस्कृति अकादमी का मुरलीधर व्यास राजस्थानी कथा सम्मान

    दिल्ली कथा पुरस्कार। आदि

  • उनकी राजस्थानी कहानी ‘गा कथै बंधून’ राजस्थान विश्वविद्यालय-जयपुर और माध्यमिक शिक्षा बोर्ड-राजस्थान, अजमेर के पाठ्यक्रम में है,

  • विद्यापीठ विश्वविद्यालय उदयपुर में उनकी कविताओं का संग्रह आ बैठ बात करां ’

  • राजस्थानी कहानी ‘दलाल’ का अंग्रेजी अनुवाद, क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बैंगलोर (कर्नाटक) और महात्मा गांधी विश्वविद्यालय कोट्टायम (केरल) में ‘द ब्रोकर’के नाम से शामिल है

  • उनकी हाडाखोड़ी ’को राजस्थानी साहित्य में आधुनिक कहानियों के बाद का पहला संग्रह माना जाता है।

  • उनके लघु कहानी संग्रह सपनै रो सपनो की कुछ लघु कथाएँ राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पाठ्यक्रम में शामिल की गई हैं।

  • पुस्तक ‘राती कणेर’ टैगोर के बांगला नाटक ‘रक्त करबी’ का राजस्थानी अनुवाद है, को साहित्य अकादेमी नई दिल्ली का अनुवाद पुरस्कार भी मिल चुका है।

Visits: 120


Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


security code *