सिविल सेवा परीक्षा के बारे में सामान्य जानकारी |

यूपीएससी की परीक्षा 3 चरणों में होती है :-

1। प्रिलिमिनरी परीक्षा

2। मैन्स परीक्षा

3। साक्षात्कार

1। प्रिलिमिनरी परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examinations) में दो पेपर रहते हैं, जिसमे से दोनों ही अनिवार्य हैं। दोनों ही पेपर 200 अंक के होते हैं. इन दोनों पेपर को सामान्य अध्ययन(General Studies) पेपर प्रथम और सामान्य अध्ययन(General Studies) पेपर द्वितीय कहते हैं। दोनों प्रश्न पत्र एकाधिक पसंद सवाल ( Multiple Choice Questions) का होगा। ये पेपर दो सेट अंग्रेजी और हिंदी में रहेंगे। प्रत्येक पेपर की अवधि दो घंटे की होगी। अंधा, विकलांगता और मस्तिष्क पक्षाघात मामलो में आपको प्रत्येक पेपर में 20 मिनट प्रति घंटे में अतिरिक्त मिलेंगे। सामान्य अध्ययन पेपर-द्वितीय की प्रारंभिक परीक्षा में आपको न्यूनतम अर्हक अंक 33% प्राप्त करने होंगे।

प्रारंभिक पेपर -१ के लिए UPSC सिलेबस (२०० अंक )

१. वर्तमान मामलें और अंतर्राष्ट्रीय और राष्ट्रीय मह्त्व के वर्तमान घटनाएं।

२. सामान्य विज्ञान।

३. जलवायु परिवर्तन (Climate Change) पर्यावरण पारिस्थिकी (Environmental Ecology) और जैवविविधता (Biodiversity) पर सामान्य मुद्दे (General issues) ( इसमें विषय विशेषज्ञता की जरुरत नहीं होती )

४. भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और भारत का इतिहास

५. विश्व और भारतीय भूगोल -इसमें अधिकारों के मुद्दे (Rights Issues) ,भारत की और दुनिया की भौतिक भूगोल ,भारत और दुनिया की आर्थिक भूगोल आते हैं।

६. भारतीय राजनीति और शाशन – संविधान , सार्वजनिक निति (Public Policy) , राजनितिक प्रणाली , पंचायती राज , आदि।

७. सामाजिक विकास और आर्थिक -इसमें सामाजिक क्षेत्र की पहल (Social Sector initiatives) , सतत विकास (Sustainable Development) , समावेश (Inclusion) , जनसांख्यिकी (Demographics) और गरीबी आदि आते हैं।

प्राम्भिक पेपर -२ के लिए UPSC सिलेबस -(२०० अंक )

.१. समस्या को हल करना और निर्णय लेना।

२. सामान्य मानसिक योग्यता।

३. समझ (Comprehension).

४. डेटा ब्याख्या (Data interpretation) ( ग्राफ ,रेखांकन , टेबल , डेटा प्रचुरता ( data sufficiency ),आदि ) बेसिक संख्यात्मक कार्य (संख्या और उनके सम्बन्ध , परिमाण के आदेश ,आदि। ) (१० वी कक्षा के स्तर )

To download free NCERT Books from Class 5 to Class 12th

५. विश्लेषणात्मक क्षमता (Analytical ability) और तार्किक तर्क ( Logical reasoning)

६. संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (Interpersonal skills including communication skills).

2। मैन्स परीक्षा

मुख्य पेपर के लिए UPSC सिलेबस में 8 पेपर होते हैं , लेकिन केवल 6 पेपर ही अंतिम रैंकिंग के लिए लिया जाता है। शेष दो पेपर में आपको न्यूनतम अंक सुरक्षित करना होता है जो कि UPSC घोषित करती,6

लेकिन UPSC सिविल सर्विस की मुख्य परीक्षा पूरी तरह से लिखित परीक्षा है, इसमें उल्लेखित पेपर निम्नलिखित हैं –

१. दो पेपर जो की योग्यता के लिए गिने जाते हैं न की अंतिम योग्यता के लिए.

पेपर-अ

( आपको संविधान की 8 वी अनुसूची में शामिल किसी भी एक भारतीय भाषा का चयन करना पड़ेगा ) कुल अंक ३००।

नोट – अगर आप सिक्किम , नगालैंड, मिजोरम , मणिपुर ,मेघालय, अरुणांचल प्रदेश ,के हैं तो , ये पेपर आपके लिए जरुरी नहीं है।

पेपर – ब

अंग्रेजी भाषा। कुल अंक ३००।

UPSC सिलेबस और पेपर जो अंतिम गुण के लिए गिने जाते है-

पेपर-1 , अंक 250। निबंध

पेपर – 2 , अंक 250।

सामान्य अध्ययन – १ ( संस्कृति और भारतीय विरासत , दुनिया और समाज का इतिहास और भूगोल )

पेपर – 3 , अंक-250।

सामान्य अध्ययन -२ (संविधान , प्रशासन , सामाजिक न्याय ,राजनीति और अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध )

पेपर – 4 , अंक 250।

सामान्य अधययन -३ (आर्थिक विकास , प्रौद्योगिकी , पर्यावरण , जैव विविधता , आपदा प्रबंधन एवं सुरक्षा (Disaster Management and Security) )

पेपर – 5 , अंक 250।

सामान्य अध्ययन – ४ (aptitude , ईमानदारी नैतिकता )

पेपर- 6 अंक 250। वैकल्पिक विषय – पेपर १

पेपर – 7 अंक 250। वैकल्पिक विषय – पेपर २

उप कुल ( लिखित ) 1750 अंक

व्यक्तित्व परिक्षण 275 अंक

महयोग 2025 अंक

UPSC सिलेबस के बारे में महत्वपूर्ण नोट –

१. आपके पेपर A और B भारतीय भाषा में रहेगा और अंग्रेजी पेपर क्रमशः मेट्रिक या उसके बराबर होगा।आप इस परिसखा में प्राप्त करेंगे वह आपकी रैंकिंग में नहीं गिना जाएगा।

२. पेपर अर्थात ‘ निबंध ‘ का मूल्यांकन , सामान्य अध्ययन और वैकल्पिक विषय , भारतीय भाषा और अंग्रेजी के उनकी योग्यता के पेपर के मूल्यांकन के पेपर के साथ किया जायेगा और ‘ निबंध ‘ का पेपर , सामान्य अध्ययन और वैकल्पिक विषय उन्ही उम्मीदवारों का होगा जो भारतीय भाषा और अंग्रेजी के पेपर में २५ % अंक हासिल करते हैं।

३. अनिवार्य है की सिविल सेवा (Prelim) के दोनों पेपर में मूल्याङ्कन करना है.अगर आप दोनों परीक्षाओं में मूल्यांकन नहीं करते हैं तो आप को आयोग्य कर दिया जायेगा।

3। साक्षात्कार

१. UPSC मुख्य पेपर के योग्य उम्मीदवार ही साक्षात्कार के परिक्षण या ब्यक्तित्व परिक्षण के पत्र होंगे।

२. आपका साक्षात्कार बोर्ड के सदस्यों द्वारा होगा जिनके पास आपके करियर का रिकॉर्ड पहले से ही होगा।आपको हित के मामलों पर सवाल पूछा जायेगा।

३. इस साक्षात्कार का उद्देश्य सार्वजनिक सेवा में अपने आगे के करियर के लिए अपने ब्यक्तिगत उपयुक्तता का मूल्याङ्कन करने क लिए होगा।इस परीक्षा से आपका मानसिक क्षमता का निर्णय होगा।

४. इस साक्षात्कार का परिक्षण न केवल आपके बौद्धिक गुणों बल्कि सामाजिक लक्षण और समसामयिक मामलों में भी रूचि प्रगट करेगा।

५. आपके गुणों में से कुछ बौद्धिक और नैतिक अखंडता ( Intellectual and Moral integrity), मानसिक सतर्कता, सामाजिक सामजस्य (social cohesion) और नेतृत्व आत्मसात के महत्वपूर्ण शक्तियों , न्याय के संतुलन , स्पस्ट और तार्किक प्रदर्शनी , विविधता और ब्याज की गहराई के लिए क्षमता को देखा जायेगा।

६. साक्षात्कार की तकनिकी वो सख्त जिरह परीक्षाओं की तरह नहीं लेकिन प्रकितिक सोद्देश्य बातचीत है जो उम्मीदवारों के मानसिक गुणों को प्रगट करती है।

७. आपका साक्षात्कार परीक्षा विशिष्ट या सामान्य ज्ञान है जो लिखित पेपर के परिक्षण से नहीं लिया जाता। आपका बुद्धिमत्ता रूचि सिर्फ आपके अकादमी अध्ययनों पैर ही नहीं लिया जाता बल्कि आपके आस पास क्या हो रहा है , और आपके राज्य व देश के बहार क्या हो रह है इसके साथ ही आधुनिक धाराओं और नई खोज जो शिक्षित युवाओं की जिज्ञासा बढ़नी चाहिए।

वैकल्पिक पेपर प्रथम और द्वितीय (उम्मीदवार दिए गए सूचि में से कोई भी विकल्प चुन सकते हैं ) के विषयों पर क्लिक करे और उसमें शामिल विषयों को देखे –

  1. कृषि (एनाटॉमी , औषध विज्ञान और स्वछता ) AGRICULTURE
  2. पशु पालन और पशु चिकित्सा का विज्ञान ANIMAL HUSBANDRY AND VETERINARY SCIENCE
  3. मनुस्य जाति का विज्ञान ANTHROPOLOGY
  4. वनस्पति विज्ञान BOTANY
  5. रसायन विज्ञान CHEMISTRY
  6. असैनिक अभियंत्रण CIVIL ENGINEERING
  7. वाणिज्य और लेखा COMMERCE AND ACCOUNTANCY
  8. अर्थशात्र ECONOMICS
  9. ELECTRICAL ENGINEERING
  10. भूगोल GEOGRAPHY
  11. भूगर्भशास्त्र GEOLOGY
  12. इतिहास HISTORY
  13. कानून LAW
  14. प्रबंधन MANAGEMENT
  15. अंकशास्त्र MATHEMATICS
  16. MECHANICAL ENGINEERING
  17. चिकित्साविज्ञान MEDICAL SCIENCE
  18. दर्शनशास्त्र PHILOSOPHY
  19. भौतिक विज्ञान PHYSICS
  20. राजनीति विज्ञान और अंतर्राष्ट्रीय रिश्ते POLITICAL SCIENCE AND INTERNATIONAL RELATIONS
  21. मनोविज्ञान PSYCHOLOGY
  22. सार्वजानिक प्रशाशन PUBLIC ADMINISTRATION
  23. स्थैतिकि STATICS
  24. नागरिक शस्त्र SOCIOLOGY
  25. जीव विज्ञान ZOOLOGY

साहित्य के लिए UPSC सिलेबस -(भारतीय भाषा ):-आसामी ( Assamese) , बंगाली (Bengali), बोडो(Bodo) , डोंगरी( Dogri) , अंग्रेजी(English), गुजराती(Gujarati), हिंदी( Hindi), कन्नड(Kannada),कश्मीरी , कोंकणी , मैथिली, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, नेपाली,उड़िया,पंजाबी,संस्कृत , संथाली,सीधी , तमिल, तेलगू, और उर्दू।

Visits: 92


1 Trackback / Pingback

  1. सिविल सेवा परीक्षा 2018 के लिए आवेदन भरने की अंतिम थी 6 मार्च 2018 - Prepare N Evaluate

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


security code *